ये कहानी आर्यन की है। आर्यन की ये स्टोरी या लव स्टोरी या इस कहानी का नाम क्या दिया जाये ये आप सोच लेना। हम कहानी में आगे बढ़ते हैं, आर्यन एक हैंडसम लड़का है। ज़ाहिर सी बात है उसे पसंद करनी वाली लड़कियां कम नहीं है! आर्यन खुश मिजाज और साफ दिल का लड़का है। पर चाहे कोई अमीर हो या गरीब, सुन्दर हो या बदसूरत! इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता! क्योंकि हर किसी के ज़िन्दगी में कुछ न कुछ कमी रहती है। जिसे पूरा करने के लिए इंसान अपनी इच्छाओं में झुझता रहता है। ऐसे ही आर्यन की कहानी भी है! आर्यन थोड़ा अलग लड़का है, वो हर किसी से बात नहीं करता। ऐसे ही एक दिन ऑनलाइन वो एक अच्छी वेबसाइट पर जाता है! जहाँ उसे एक आर्टिकल पढ़कर अच्छा लगता है। उसके बाद वो उस आर्टिकल राइटर के बारें में जानने की कोशिश करता है। और जान भी जाता है।

कौन है वो लड़की

अब इस कहानी में यहीं एंट्री होती है इशिता की। आर्यन इशिता के बारें में यहीं से जानता है! इशिता ही उस आर्टिकल की राइटर होती है। आर्यन के मन में आता है वो इसके इस आर्टिकल की इशिता से तारीफ करे! पर आर्यन इशिता से बात नहीं करना चाहता था। वो सोचा की अगर मैं इससे बात करने जाऊँगा तो वो शायद मुझसे बात न करे। वैसे भी आर्यन दिखने में सुन्दर लड़का था तो वो लड़कियों के पीछे नहीं रहता था ! क्योंकि आर्यन जानता था की लड़कियां वैसे भी ऐटिटूड दिखाती हैं तो ये तो जरूर ही दिखाएगी। पर आर्यन को उसके लिखे कुछ शब्द पसंद आ गए थे ! इसलिए उसने तय किया वो भाव खायेगी भी तो भी मैं उसकी तारीफ करूँगा। क्योंकि कला की कद्र वो जानता था, वो कैसे और क्यों? अभी थोड़े देर में आपको पता चला जायेगा। (Facebook Love Story In Hindi) फिर आर्यन उसके उस वेबसाइट से उसके सोशल मीडिया का पता लगाकर उसके इंस्टाग्राम प्रोफाइल पर पहुँचता है ! वो सोचता है मैसेज कर दूँ पर आर्यन ने सोचा वो किसी लड़की को क्यों मैसेज करे। कुछ देर सोचने के बाद वो वापस आकर उसके वेबसाइट में दिए हुए ईमेल पर उसे मैसेज करता है ! पर किसी कारण वश वो मैसेज उस तक नहीं पहुँचता। आर्यन 1-2 दिन बाद फिर कोशिश करता है पर मैसेज नहीं जाता। फिर आर्यन ठान लेता है की चाहे जैसे पर उसकी तारीफ उसे करनी है। वो फिर इशिता के Facebook ID  पर जाकर उसे मैसेज करता है। पर आर्यन इस बात से हंसने लगता है! वो देखता है की इशिता कितने ही महीनो से फेसबुक पर एक्टिव ही नहीं हुयी है।

आर्यन ने कैसे मैसेज भेजा

इसके बाद वो सोचता है शायद उसके वेबसाइट पर कमेंट का ऑप्शन बना हो। उसे वहां से मैसेज करके बता दूंगा। जब आर्यन उसके वेबसाइट पर पहुँचता तो उसे वहां कमेंट का ऑप्शन मिल जाता है। अब आर्यन मैसेज फिर नहीं करता। वो सोचता है वो एक वेबसाइट ओनर है, एक अच्छी ब्लॉगर है। वो मुझे रिप्लाई क्यों देगी ! और कमेंट में कुछ भी बोलूंगा तो शायद उसकी बेज्जती भी हो जाये! क्योंकि कमेंट हर कोई पढ़ सकता था। इतने के बाद आर्यन सोचता है मैं उसे बस मैसेज कर दे रहा हूँ! की मैं उसे फेसबुक पर कुछ जरुरी मैसेज भेजा हूँ आप जाकर पढ़ लेना। और ये तरीका आखिरकार काम कर गया। लगभग 2-3 दिन बाद उसने आर्यन के मैसेज को देखा और उसे थैंक्यू कह कर इशिता ने रिप्लाई दिया। आर्यन ने बिना सोचे उसे रिप्लाई दे दिया। जैसा की मैंने आपको बताया था वो एक खुले और साफ दिल का लड़का है ! उसकी वजह से आर्यन ने उस रिप्लाई में कुछ कहने के बाद इशिता से कह दिया – क्या तुम मुझे दोस्ती करोगी? आर्यन को ये बात अच्छे से पता थी की वो या तो न करेगी या कुछ नहीं बोलेगी ! फिर भी उसने अब तो मैसेज कर दिया था और इशिता ने पढ़ भी लिया था! अब वो करता भी क्या? इशिता के कोई रिप्लाई ने देने पर आर्यन समझ गया वो बात नहीं करना चाहती ! इसके बाद आर्यन ने सोचा अब वो उसे कोई मैसेज नहीं करेगा।

आर्यन ने क्या किया

असल में आर्यन को तो वो लड़की पसंद भी नहीं थी पर उसके कला को पसंद करने लगा था! इसलिए आर्यन फिर सोचता है की वो उसे मैसेज करेगा। आर्यन के मन में इशिता को और जानने के लिए, उससे बातें करने के लिए इच्छाएं जन्म लेने लगीं! वो ये नहीं समझ पा रहा था की ऐसा क्यों हो रहा है। उसने सोचने में समय न गवाते हुए उसे दूसरे दिन फिर मैसेज किया ! इशिता का कोई रिप्लाई फिर न आने पर आर्यन के ऐटिटूड को चोट पहुंच रही थी। फिर भी वो तीसरे दिन, चौथे दिन उसे मैसेज करता है। आखिरकार चौथे दिन इशिता का मैसेज आता है। इशिता ने कहा – उसके पास समय नहीं है, वो बात नहीं कर सकती! वो अपने वेबसाइट के काम में बहुत बिजी रहती है। आर्यन को इस बात से गुस्सा आता है पर वो सोचता है! इशिता अपनी नजर से देख रही है की वो एक ब्लॉगर है, वो ऐसे ही किसी से बात कैसे कर सकती है ! आखिरकार उसकी नजर में आर्यन एक आम लड़के से ज्यादा कुछ नहीं था। आर्यन अपना मन मारकर ये फैसला करता है की वो घमंड में है! अगर मैं भी ऐसा हो गया तो कौन किसको समझेगा। (Online Love story In Hindi)

क्यों बुरा लगा आर्यन को

इसलिए वो उसको फिर मैसेज करता है पर इशिता का कोई रिप्लाई नहीं आता! आर्यन सोचता है की शायद वो उसे परेशान कर रहा है। इसके बाद भी इशिता की कला उसे अपनी तरफ खींचने में बार-बार मजबूर कर देती है! वो कुछ दिनों तक उसे मैसेज करता है। और उससे जानबूझकर हर बार पूछता है की वो उससे दोस्ती करेगी? अगर दोस्ती करना है तो भी बता दे, नहीं करना है तो भी बता दे। उसके बाद वो उसे मैसेज नहीं करेगा! पर इशिता न दोस्ती के लिए इंकार करती है न ही इज़हार करती है। बल्कि इशिता आर्यन से कुछ अलग बातें जरूर करती है। इन सबके बाद भी आर्यन उससे सच में दोस्ती करना चाहता था ! इसलिए वो इशिता के कुछ न कहने पर भी वो बार बार उससे पूछता रहा। कई दिन बीतने के बाद इशिता आर्यन से कह देती है की अब उसे वो कोई मैसेज न करे। अब ये बात आर्यन के ईगो पर लग जाती है। आर्यन सोचता है अगर उसे दोस्ती नहीं करनी थी तो उसने पहले क्यों नहीं कहा! उसे इस बात से बहुत गुस्सा आया और उसे अब इशिता से नफरत होने लगी। आर्यन ने इशिता के घमंड को तोड़ने के लिए उसे सबक सिखाने को सोचा। ताकि वो घमंड से निकलकर इंसान और फीलिंग्स की क़द्र कर सके।

क्या था उस मेल में

इशिता एक ब्लॉगर है ये तो आपको पता है। कुछ दिन बाद इशिता के पास एक मेल आता है। इशिता उस मेल को ओपन करती है तो खुश हो जाती है। क्योंकि वो मेल उससे बहुत ज्यादा बड़े वेबसाइट से आया था! वो ये समझ गयी थी ये मेल किसी बड़े और प्रोफेशनल ब्लॉगर की तरफ से आया है। वो उसे पढ़ती है तो शॉकेड हो जाती है। उस मेल में लिखा होता है की “जहाँ घमंड हो वहां कला भी गायब हो जाती है। ये मत भूलो की ब्लॉगर बनने से पहले तुम एक इंसान हो।” तुम मानो या न मानो ये सब यही रह जायेगा, इंसान खाली हाथ आया था और खाली हाथ ही जायेगा। इंसान को इंसान की भावनाओं और सच्चाई से परखना चाहिए उसकी औकात से नहीं! क्योंकि ये समय है और समय लोगों का रुतबा बदलता रहता है। तुम्हारी तारीफ करने के लिए उतावला होने वाला ‘आर्यन’ ! ये पढ़कर इशिता का घमंड चूर चूर हो जाता है। इशिता को अपनी गलती का एहसास होता है वो आर्यन से माफ़ी मांगती है। और इशिता आर्यन से कहती है की वो उसे अपना दोस्त बना ले! आर्यन उसे माफ़ कर देता है, और वो उसे अपना दोस्त बना लेता है। (Facebook Love Story)

Leave a Reply

Your email address will not be published.